Wednesday, December 7, 2022
HomeBlogचाँद धरती से कितना दूर है | Chand Dharti Se Kitna Door...

चाँद धरती से कितना दूर है | Chand Dharti Se Kitna Door Hai?

चाँद धरती से कितना दूर है | Chand Dharti Se Kitna Door Hai?

हम सभी जानते हैं कि आज चांद पर पहुंचना मात्र कल्पना नहीं रह गया है। आधुनिक युग में यह संभव हो गया कि मानव आज चांद की यात्रा कर सकता है। जी हां यह विज्ञान का ही चमत्कार है कि आज धरती से चांद की दूरी को तय करना आसान हो गया है। सन् 1959 में ही चांद को देखने और उसे समझने का मिशन शुरु हो गया था और आज मानव की पहुंच चांद तक हो चुकी है। चाँद धरती से कितना दूर है इसका सटीक आकलन तो लगाना नामुमकिन है।

लेकिन अंतरिक्ष वैज्ञानिक एवं शोधकर्ताओं के अनुसार धरती से चांद की दूरी का आकलन किया गया है। आज के हमारे इस लेख में हम आपको बताएंगे कि चाँद धरती से कितना दूर है साथ ही साथ चांद से जुड़ी कुछ रोचक जानकारी भी बताएंगे इसलिए आप हमारी इस पोस्ट को अंत तक पढ़े। आप चाहें तो google से Voice Command के जरिये पूछ सकते है: google Chand dharti se kitna door hai

चाँद धरती से कितना दूर है? (Chand dharti se kitna door hai)

चांद की धरती से दूरी तकरीबन 3,84,403 किलोमीटर है। यानी कि अगर आसान शब्दों में कहें तो पृथ्वी से चांद की दूरी लगभग तीन लाख चैरासी हजार चार सौ किलोमीटर है।

हम आपको आपके के जानकारी के लिए बता दें कि चांद और धरती के बीच की दूरी हमेशा एक समान नहीं रहती यह हमेशा बदलती रहती है क्योंकि चंद्रमा हमेंशा से गतिमान है यह पृथ्वी का प्राकृतिक उपग्रह है और पृथ्वी के चारों ओर चक्कर लगाता रहता है जिसके कारण इसकी पृथ्वी से दूरी कभी कम तो कभी ज्यादा रहती है। चंद्रमा पृथ्वी का एकमात्र उपग्रह है और यह एक ऐसा उपग्रह है जिसका अपना कोई प्रकाश नहीं है यह सूर्य के प्रकाश से चमकता है और अपने अक्ष पर से पृथ्वी का चक्कर लगाता है। चंद्रमा को पृथ्वी का एक चक्कर लगाने में लगभग 27 दिन का समय लग जाता है।

चांद का जन्म (Birth of Moon)

वैज्ञानिकों तथा शोधकर्ताओं के अनुसार पृथ्वी की उत्पत्ति के बाद ही चांद का जन्म हुआ। वैज्ञानिकों के अनुसार आज से 4.50 अरब साल पहले चांद अस्तित्व में आया था, जो कि पृथ्वी और थीय (मार्स के आकार का तत्व) के बीच हुए भीषण टकराव के बाद बचे हुए अवशेषों के मलबे से बना था। चंद्रमा के होने से पृथ्वी रुकी हुई है। इसी के कारण से पृथ्वी पर सूर्य और चंद्र ग्रहण लगते हैं। “चाँद धरती से कितना दूर है”

धरती से चांद तक पहुंचने में कितना समय लगता है?

अधिकांश चंद्र मिशनों को चंद्रमा तक पहुंचने में लगभग तीन दिन लगे हैं, इसके अलावा, पृथ्वी से चंद्रमा तक पहुंचने में कितना समय लगता है, यह उस विमान की गति पर भी निर्भर करता है जिसमें आप यात्रा कर रहे हैं।

पृथ्वी से चंद्रमा पर भेजा गया सबसे धीमा विमान ESA SMART-1, एक साल, एक महीने और दो सप्ताह के बाद चंद्रमा पर पहुंचा, अब तक का सबसे तेज NASA न्यू होराइजन्स ने लगभग आठ घंटे और पचपन मिनट का समय लिया। पृथ्वी और चंद्रमा के बीच की दूरी को कवर किया गया था।यह पृथ्वी से चंद्रमा के बीच की यात्रा को तय करने वाला अब तक का सबसे कम समय है।

चांद का आकार

चंद्रमा का आकार एक क्रिकेट की बाल की तरह गोल है और इसका खुद का प्रकाश नही होता यह सूर्य के प्रकाश से प्रकाशित होता है। चंद्रमा का वह भाग जो सूर्य के सामने होता है वह चमकता हुआ दिखाई देता है और बाकी के भाग में अंधेरा होता है। इसी कारणवश चंद्रमा का आकार घटता और बढ़ता रहता है।

चाँद पर जाने वाले लोगों की सूची

चांद पर अब तक बारह लोग जा चुके हैं। आज से लगभग पचास साल पहले मानव जाति ने चांद पर पहला कदम रखा था जिसमे सबसे पहला नाम नील आर्मस्ट्रांग का है।

  1. नील आर्मस्ट्रांग
  2. बाज एलड्रिन
  3. पीट काॅनराड
  4. एलन बीन
  5. एलन शेपर्ड
  6. एडगर मिशेल
  7. डेविड स्काॅट
  8. जेम्स इरविन
  9. जाॅन यंग
  10. चार्ल्स ड्यूक
  11. हैरिसन शमिट
  12. जीन सर्नन

चांद की कलाओं का नाम

  • अमावस्या
  • वर्धमान बढ़ता चांद
  • अर्ध चंद्र
  • कुबड़ा बढ़ता चांद
  • पूर्णिमा
  • कुबड़ा घटता चांद
  • अर्ध चंद्र
  • वर्धमान घटता चांद
  • अमावस्या

Chand dharti se kitna door hai (FAQs)

1- चांद पर कितना तापमान है?
उत्तर- ऐसा पाया गया है चांद की अलग-अलग सतहों पर अलग-अलग तापमान पाया गया है। चांद पर दिन और रात के तापमान में बड़ा अंतर होता है। दिन के तापमान की बात करें तो यह लगभग 127°C तक होता है और वहीं रात मे इसका तापमान शून्य से 183°C तक हो जाता है।

2- चंद्रमा और सूर्य के बीच आकार में कौन बड़ा है?
उत्तर- सूर्य चंद्रमा से लगभग 400 गुना बड़ा है, लेकिन जब हम इसे पृथ्वी से देखते हैं, तो दोनों एक ही आकार के प्रतीत होते हैं, क्योंकि चंद्रमा सूर्य से पृथ्वी के अधिक निकट है।

3- क्या चांद पर पानी है?
उत्तर- चांद का वह भाग जो छाया में रहता है, वहां पर बर्फ के रूप में पानी उपलब्ध है।

4- चांद पर भारत कब पहुंचा?
उत्तर- भारत के राकेश शर्मा ने 3 अप्रैल 1984 को पहली बार चांद पर कदम रखा था।

5- पृथ्वी का चक्कर लगाने में चाद को कितना समय लगता है?
उत्तर- पृथ्वी का चक्कर लगाने में चांद को 27 दिन 7 घंटे 43 मिनट 11.5 सेकेंड का समय लगता है। चांद को अपने अक्षीय धुरी पर पूरा एक चक्कर लगाने में 29 दिन 12 घंटे 44 मिनट 2.9 सेकेंड का समय लगता है।

6- चांद पर इंसान का वजन कितना होता है?

उत्तर- चांद पर गुरुत्ताकर्षण बल धरती से बहुत कम होता है जितना वजन पृथ्वी पर व्यक्ति का होता है चांद पर उसका 165 फीसदी कम हो जाता है।

7- चांद का नक्शा पहली बार किसने बनाया?

उत्तर- चन्द्रमा का पहला नक्शा ब्रिटिश खगोलशास्त्री थॉमस हैरियट ने बनाया था।

8- चांद के सबसे ऊंचे पर्वत का नाम और ऊंचाई क्या है?

उत्तर- हाइजन पर्वत जिसकी ऊंचाई 4700 मीटर है।

9- चंद्रमा का भार कितना है?

उत्तर- चंद्रमा का भार लगभग 7.342×1022 Kg है।

10- चांद पर जाने वाली पहली भारतीय महिला का क्या नाम था?

उत्तर- पहली भारतीय महिला कल्पना चावला थी।

11- चंद्रमा का प्रकाश पृथ्वी तक कितने समय में पहुंचता है?

उत्तर- अधिकतम 1 सेकेंड से 1.3 सेकेंड में।

12- क्या चांद पर जीवन संभव है?

उत्तर-चांद पर जीवन संभव नहीं है क्योंकि वहां का वातावरण हमारे अनुकूल नही है

13- धरती कितने साल पुरानी है?

उत्तर- धरती 4.5 बिलियन साल पुरानी है।

निष्कर्श

हमें उम्मीद है कि अब आपको पता चल गया होगा कि चांद धरती से कितनी दूर है। हमने इस लेख में आपको सब कुछ विस्तार से बताया है आपको हमारा आज का आर्टिकल कैसे लगा हमें कमेंट बाॅक्स में लिखें और अपने मित्रों के साथ शेयर करें।

धन्यवाद..

एलएलबी का फुल फॉर्म क्या है?

मेरे पास के किराये के मकान

Shashikant Tiwari
Shashikant Tiwari
I am Shashikant Tiwari. I am a blogger and my responsibilities include doing in-depth research on Indian trending topics, generating ideas for new content.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments